Monday, May 27, 2024
spot_img

अयोध्या : 23 से 26 जुलाई तक लखनऊ से अयोध्या हाईवे रहेगा बंद

72 / 100

23 से 26 जुलाई तक लखनऊ से अयोध्या हाईवे रहेगा बंद

प्रशासन ने राम नगरी को सात जोन व 25 सेक्टर में बांटा

अयोध्या से लखनऊ तक 23 से 26 जुलाई तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारी वाहनों का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया गया है।

अयोध्या। सावन मास में 23 से 26 जुलाई तक अयोध्या पहुंचने वाले कांवड़ियों की भारी भीड़ की संभावना को देखते हुए प्रशासन ने 23 की सुबह चार बजे से 26 जुलाई तक लखनऊ से अयोध्या राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारी वाहनों का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया है।

इस दौरान कांवड़ियों के लिए दो लेन सुरक्षित रहेंगी। दो लेन आवश्यक सुविधाओं के लिए आरक्षित रहेंगी। भीड़ की स्थिति को देखते हुए छोटे वाहनों के संचालन की अनुमति दी जाएगी। रूट डायवर्जन का भी चार्ट तैयार कर लिया है। सावन में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी व श्रावण शिवरात्रि पर अयोध्या में सरयू नदी से जल लेने के लिए बस्ती, आजमगढ़, अंबेडकरनगर, सुल्तानुपर, बाराबंकी समेत अन्य जनपदों से लाखों कांवड़िये आते हैं।

उनका आगमन 23 जुलाई से ही शुरू हो जाएगा। माना जा रहा है कि जिले में 25 व 26 जुलाई सावन शिवरात्रि को रामनगरी में लाखों कांवड़ियों का डेरा होगा। इसको लेकर पुलिस ने सुरक्षा का मजबूत खाका खींचा है। इसी के तहत रूट डायवर्जन का चार्ट भी तैयार किया गया है। एसपी सिटी व मेला सुरक्षा अधिकारी विजयपाल सिंह ने बताया कि कांवड़ मेला को देखते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग पर 23 जुलाई की सुबह चार बजे से 26 जुलाई को भीड़ समाप्ति तक जनपद गोंडा, बस्ती, बलरामपुर, अंबेडकरनगर, सुल्तानपुर, अमेठी, बाराबंकी से आने वाले भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध रहेगा।

इसी तरह गोंडा के लकड़मंडी चौराहे से सभी प्रकार के वाहन अयोध्या में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। फैैजाबाद से आने वाले वाहन श्रीराम अस्पताल तक आ सकेंगे। रामघाट चौराहे से साकेत पेट्रोल पंप व नयाघाट की ओर सभी वाहनों का प्रवेश निषेध होगा।

उन्होंने बताया कि कांवड़ियों के लिए लखनऊ-बस्ती हाईवे को आरक्षित रखा जाएगा। दो लेन आवश्यक सुविधाओं के वाहनों के लिए सुरक्षित रहेंगे। इस पर छोटे वाहनों के आवागमन की भी अनुमति दी जा सकती है, लेकिन यह कांवड़ियों की भीड़ पर निर्भर करेगा।

यदि भारी भीड़ उमड़ी तो हाईवे को पूरी तरह से बंद करने का भी निर्णय लिया जा सकता है। सीओ अयोध्या व सीओ यातायात डॉ. राजेश तिवारी ने बताया कि असामाजिक तत्वों पर निगाह रखने के लिए मेला क्षेत्र में एक दर्जन से ज्यादा स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा पहले से लगे कैमरों को दुरुस्त कराया गया है। मेला क्षेत्र में विशेष दबाव वाले स्थान नयाघाट, सरयू तट, हनुमानगढ़ी आदि पर ड्रोन कैमरे से भी नजर रखी जाएगी।

सीओ ने बताया कि कांवड़ियों की भीड़ में सादी वर्दी में पुलिस के जवानों के साथ खुफिया विभाग के कर्मचारी भी तैनात किए गए हैं। हाईवे व पुल पर भी पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी। पूरे मेला क्षेत्र को सात जोन व 25 सेक्टर में बांटा गया है। इसकी सुरक्षा के लिए एक कंपनी सीआपीएफ, एक कंपनी पीएसी, 10 सीओ, 14 इंस्पेक्टर, 75 एसआई, 180 सिपाही, 80 कांस्टेबल की ड्यूटी लगाई जाएगी।

अयोध्या में उमड़ने वाले कांवड़ियों की भीड़ को देखते हुए जिला प्रशासन ने रामनगरी के व्यापारियों के साथ बैठक कर उनसे सहयोग की अपील की। सीओ अयोध्या डॉ. राजेश तिवारी ने व्यापारियों से सुझाव भी मांगे। व्यापारियों ने कहा कि मेले में नाबालिग ई-रिक्शा व टैंपो-विक्रम वाहन न चलाने पाएं। इससे दुर्घटना की संभावना रहती है। अयोध्या व्यापार मंडल के जिला अध्यक्ष पंकज गुप्ता ने सुझाव दिया कि मेले के दौरान स्कूली वाहन को पास बनाकर दिया जाए।

जिससे बच्चों को स्कूल आने-जाने में कोई असुविधा न हो। साथ ही शृंगारहाट से रामजन्मभूमि मार्ग के चौड़ीकरण को भी सावन मेला तक स्थगित करने की मांग की।
सीओ ने व्यापारियों से अपील करते हुए कहा कि वे संदिग्ध व्यक्ति, वस्तु आदि की सूचना तत्काल पुलिस को दें। बैठक में पार्षद नंदलाल गुप्ता, पूर्व चेयरमैन राधेश्याम गुप्ता, विनोद श्रीवास्तव, विनोद पाठक, सुफलचंद्र मौर्य, अश्वनी गुप्ता सहित अन्य मौजूद रहे।

कांवड़ मेला में इस तरह बदला रहेगा रूट
– जनपद गोरखपुर से आने वाले भारी वाहन खलीलाबाद से मेंहदावल-बांसी, डुमरियागंज, बलरामपुर, गोंडा होते हुए बाराबंकी-लखनऊ की तरफ जाएंगे।

– जनपद बस्ती से आने वाले वाहनों को बस्ती से डुमरियागंज, मनकापुर, उतरौला, गोंडा के रास्ते बाराबंकी होते हुए लखनऊ की तरफ भेजा जाएगा।

– जनपद गोंडा-बलरामपुर की ओर से अयोध्या होकर आने वाले वाहनों को गोंडा/मनकापुर से रोककर करनैलगंज, जरवल रोड, रामनगर चौराहा होते हुए जनपद बाराबंकी/लखनऊ की तरफ भेजा जाएगा।

– जनपद बाराबंकी-लखनऊ की ओर से गोरखपुर-बस्ती की तरफ जाने वाले वाहनों को रोककर बाराबंकी से ही जरवल रोड, करनैलगंज, गोंडा, उतरौला, डुमरियागंज से गोरखपुर की तरफ से जाएंगे।

– जनपद अमेठी-रायबरेली की ओर से अयोध्या होकर जनपद गोरखपुर, बस्ती की तरफ जाने वाले वाहन अमेठी से ही पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से आजमगढ़, दोहरीघाट होते हुए गोरखपुर की तरफ जाएंगे।
जनपद सुल्तानपुर से अयोध्या होकर जनपद गोरखपुर, बस्ती की तरफ जाने वाले वाहनों को सुल्तानपुर से पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से आजमगढ़, दोहरीघाट होते हुए जनपद गोरखपुर की तरफ डायवर्ट किया जाएगा।

– जनपद आजमगढ़-अंबेडकरनगर की ओर से अयोध्या होकर बस्ती-गोरखपुर की तरफ जाने वाले वाहनों को अंबेडकरनगर से अतरौलिया, आजमगढ़ दोहरीघाट होते हुए गोरखपुर की तरफ डायवर्ट किया जाएगा।

– जनपद आजमगढ़- अंबेडकरनगर की ओर से अयोध्या होकर लखनऊ की तरफ जाने वाले वाहनों को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की तरफ डायवर्जन किया जाएगा।

ALSO READ

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने राम जन्मभूमि परिसर के विकास की योजनाओं में किया बड़ा बदलाव

पत्रकार को धमकी देना पुलिस पुत्र को पड़ा महंगा

बीएचयू : शिक्षा के अंतरराष्ट्रीयकरण के लिए संस्थानों को आकांक्षी होने के साथ साथ स्वयं को करना होगा तैयार

राष्ट्रीय शिक्षा नीति का उद्देश्य शिक्षा को 21वीं सदी के आधुनिक विचारों से जोड़ना : PM मोदी

प्रवेश सम्बधित समस्त जानकारी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

घर की छत पर सोलर पैनल लगाने के लिए मिल रही सब्सिडी, बिजली बिल का झंझट खत्म

बीएचयू : कालाजार को खत्म करने के लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में महत्वपूर्ण खोज

आम की बागवानी को प्रदेश सरकार दे रही है बढ़ावा

ये है दुनिया का सबसे महंगा आम : सुरक्षा में लगे 3 गार्ड और 6 कुत्ते, कीमत जान रह जाएंगे हैरान

भारतीय आमों की विदेशी बाजार में जबरदस्त मांग

Hi Friends, This is my YouTube Channel. Please

Subscribe and Support this Youtube Channel To Grow

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति