Saturday, July 13, 2024
spot_img

अयोध्यालाइव : ज्योति मौर्य नाम में ऐसा क्या कि कहने पर दर्ज हो गया मुकदमा

ज्योति मौर्य नाम में ऐसा क्या कि कहने पर दर्ज हो गया मुकदमा

JOIN

निशा और अनूप की जिंदगी में कैसे हुई ज्योति मौर्य की इंट्री।

अयोध्या में निशाने ज्योति मौर्या अपमानित करने का दर्ज कराया अपने पति और उसके भाई पर मुकदमा।

पति ने कहा टेंपो चलाकर कर्ज मांग कर पढ़ाया अब ज्योति कहती हैं तुम मेरे लायक नहीं ।

दूसरे युवक के साथ देखभर के पति और उसके भाई का निशा से हुआ विवाद वीडियो हुआ वायरल।

अयोध्या। ज्योति मौर्या के नाम में ऐसा क्या है कि इस नाम से पुकारने पर पत्नियां अब पति पर मुकदमा दर्ज करा रही है अयोध्या कोतवाली सिटी में एक ऐसा ही मुकदमा दर्ज हुआ है निशा ने जहां अपने पति पर ज्योति मौर्या कहकर अपमानित करने का मुकदमा दर्ज कराया है तो वही उसका पति अनूप कुछ वही सब कह रहा है जो एसडीएम ज्योति मौर्या का पति आलोक मौर्य कह रहा है वह कह रहा है कि उसने टेंपो चलाकर और मेहनत मजदूरी करके अपनी बीवी को पढ़ाया और अब वह कहती है कि मैं उसके लायक नहीं हूं वह अब दूसरे लड़कों के संपर्क में हैं और दूसरी शादी करना चाहती है निशा और अनूप के बीच हुए विवाद का वीडियो वायरल हुआ तो यह पूरा मामला चर्चा में आ गया और इस पूरे विवाद में ज्योति मौर्या की भी इंट्री हो गई हम आपको बताते हैं कि यह पूरा मामला है क्या और क्यों चर्चा में है ।

अयोध्या जनपद के महाराजगंज थाना क्षेत्र के बरईपारा गांव की रहने वाली निशा प्रजापति की शादी रौनाही थाना क्षेत्र के कपासी गांव की अनूप प्रजापति से हुई थी शादी के बाद पति पत्नी में कितना प्रेम था यह आप तस्वीरों में देख सकते हैं सात जन्म तक साथ जीने मरने के वादे के साथ निशा अपनी ससुराल आ गई शादी के लगभग 4 साल तक सब कुछ ठीक-ठाक रहा मगर 4 साल बाद जून 2022 में निशा अपनी ससुराल से मायके गई तो अब पति से कह रही है तुम हमारे लायक नही हो यही नहीं अब अयोध्या सिटी में जब अनूप और उसके भाई प्रेम प्रजापति ने उसे किसी दूसरे लड़के के साथ देखा तो यहीं से हो गई ज्योति मौर्या की इंट्री इस विवाद का वीडियो वायरल होने के साथ ही निशा ने अपने पति और जेठ पर उसे ज्योति मौर्या कहकर अपमानित करने और अपशब्द कहने का मुकदमा दर्ज करा दिया निशा ने दर्ज कराए अपने मुकदमे में कहा कि 15 जुलाई को अपने कमरे से निकलकर चाय पीने के लिए सड़क पर गई थी उसी समय उसके साथ लाइब्रेरी में पढ़ाई करने वाला राहुल मिल गया जिसके साथ वह बातचीत कर रही थी कि उनके पति अनूप और उनके भाई प्रेम प्रजापति पहुंचे और उसके साथ अभद्रता करते हुए उसे ज्योति मौर्या कहने लगे यही नहीं इन लोगों ने उसके साथ और राहुल के साथ मारपीट भी की सुनिए इस मामले में क्या कहती है अयोध्या पुलिस।

शैलेंद्र सिंह ( सीओ सिटी अयोध्या ) .. निशा उसरु नवीन मंडी कोतवाली नगर की निवासनी है इनके द्वारा लिखित में तहरीर दिया गया है जिसकी आधार पर कोतवाली नगर में मुकदमा पंजीकृत किया गया है एफ आई आर में इनके द्वारा यह लिखा गया है कि इनके पति और इनके भाई द्वारा कहा गया है कि तुम ज्योति मौर्या हो रही हो इसके संबंध में विवेचना प्रचलित है वैधानिक कार्रवाई की जाएगी ।

वही निशा प्रजापति के पति अनूप उसको लेकर ऐसी चौंकाने वाली कहानी का खुलासा करते हैं जो एसडीएम ज्योति मौर्या और उनके पति आलोक के विवाद से काफी कुछ मिलती-जुलती है निशा के पति अनूप कहते हैं कि जब 2019 में उसकी शादी हुई उस समय वह ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में थी उसी दौरान उन्होंने उसके b.Ed का फार्म भराया ऑटो चलाकर और दोस्तों से कर्ज लेकर उसने लगभग ₹53000 एक कॉलेज में जमा कर उसका एडमिशन कराया B.Ed करने तक निशा उसके साथ रही पढ़ाई में कोई उसको परेशानी ना आए इसलिए अपने घर से अलग होकर वह निशा के लिए खाना बनाकर अपने काम पर जाता था मगर 2022 में उसने निशा की मोबाइल में एक व्हाट्सएप चैट देखी जिसमें चैट की भाषा प्रेमी प्रेमिका जैसी थी इस पर जब उसने निशा से पूछा तो जून 2022 में वह अपने पिता को बुलाकर मायके चली गई और जब वह कुछ दिन बाद लेने गया तो उससे कहा गया कि ना तुम मेरे लायक हो और ना तुम्हारा चेहरा इसलिए अब मैं तुम्हारे साथ नहीं रहूंगी और दूसरी शादी करूंगी अब अनूप कहता है मैं उसके लिए घर के लोगो से अलग हुआ कर्ज भी लिया, सब कुछ किया लेकिन उसने मेरे साथ ऐसा क्यों किया।

अनूप प्रजापति ( निशा का पति ) .. हमारी शादी 2019 में हुई थी और हमने अपनी पत्नी को B.Ed करवाया ग्रेजुएशन उनका फाइनल नहीं हुआ था तब हमने उनका अपेयरिंग में एडमिशन दिलवा दिया था और b.ed उनका 2021 में फाइनल हो गया B.Ed के तत्पश्चात वह मेरे साथ जब तक थी तब तक ठीक ढंग से रह रही थी लेकिन उसके बाद में पता नहीं क्या अनबन हो गया किसी और के साथ किसी और लड़के के साथ संपर्क हो गया तो वह मेरे साथ ना रहना पसंद कर रही थी उनकी कुछ वीडियो कॉलिंग और चैटिंग भी पकड़ी गई जिसमें अजीब ढंग से लिखा गया था कि उसमें हाय जानेमन आई लव यू ऐसी चैटिंग मिली थी फिर मैंने स्क्रीनशॉट लेकर के रखा था लेकिन उसी के तत्पश्चात मेरी पत्नी ने मुझे एक थप्पड़ खींच करके मारा और मेरा मोबाइल फोड़ दिया जिससे मेरे पास कोई रिकॉर्ड नहीं बचा उनका स्क्रीनशॉट मैंने उससे पहले उनके पापा को सेंड कर चुका था जिससे मैं साबित कर सकूं कि वह इस तरह की मेरे साथ हरकत कर रही है लेकिन फिर भी उनके मां-बाप नहीं माने सरासर मुझे गलत ठहरा रहे थे जब बात उन तक पहुंची वह अपनी बेटी को ना समझा कर उसी समय वह अपनी बेटी को लेकर चले गए फिर वह जब अपने मायके पहुंच गई दो-चार 10 दिन बाद मैंने ट्राई किया कि जा कर ले आए उन्होंने कहा कि मैं अब तुम्हारे साथ नहीं आऊंगी उनके मां-बाप ने कहा कि अब मैं तुम्हारे साथ नहीं भेजूंगा “तुम एक ऑटो ड्राइवर हो रिक्शा चलाते हो” तुम्हारे पास कुछ है नहीं मैं मेहनत और मजदूरी करके रात में भी गाड़ी चलाता था दिन में भी गाड़ी चलाता था किसी भी तरीके से मैंने अपनी पत्नी को पैसे इकट्ठे करके अपने यार दोस्त से कर कर्ज लेकर के अपनी पत्नी को B.Ed करवाया और मैं आज इस कंडीशन में पहुंचा हूं मैं इतना परेशान हूं कि मेरी कहीं सुनी भी नहीं जा रही है मुझे समझ में नहीं आता मैं क्या करूं और क्या ना करूं अब एक ही माध्यम बचा है कि आप लोगों के माध्यम से यह पूछना पहुंचाना चाहता हूं कि मेरी भी कहीं ना कहीं सुनवाई हो मेरे घर में निशा को कोई दिक्कत नहीं थी मैं उसको खुद खाना बना कर खिलाता था ताकि उसको पढ़ाई करने में दिक्कत ना हो पढ़ाई के पीरियड में वह घर पर रह करके ही पढ़ाई करती थी कोई भी दिक्कत नहीं हुई उसे पढ़ाई में मैंने उसे कोई भी डिस्टर्ब नहीं किया कि मेरी वजह से कोई भी पढ़ाई में डिस्टर्ब हो पढ़ाई के समय पढ़ाई करती थी और खाना बनाने की जब बात आती थी और मैं बना करके खिलाता था और झाड़ू पोछा भी मैं ही करता था ताकि इसको पढ़ाई करने में कोई दिक्कत ना हो आगे चल के समाज में मेरा नाम हो मेरे घर का नाम हो इस वजह से मैंने अपनी पत्नी को पढ़ाया लिखाया आज जो मेरी पत्नी ने मेरे साथ किया है वह किसी के साथ ना हो।

अब हम आपको बताते हैं कि जब निशा जून 2022 में अनूप को छोड़कर चली गई थी तो 1 साल बाद यह पूरा मामला सुर्खियों में कैसे आया दरअसल निशा अनूप के घर से आने के कुछ समय बाद से अयोध्या सिटी में एक कमरा किराए पर लेकर तैयारी कर रही है 15 जुलाई को जब वह एक युवक के साथ टहल रही थी तो उसके पति के बड़े भाई प्रेम प्रजापति ने उसे देख लिया प्रेम प्रजापति कहते हैं जिस तरह वह युवक का हाथ पकड़कर चल रही थी उसको देख कर उसे बर्दाश्त नहीं हुआ क्योंकि अभी निशा से उसके परिवार के रिश्ते हैं और कानूनी तौर पर कोई अलगाव भी नहीं हुआ है इसलिए उसने फोन करके निशा के पति और अपने भाई अनूप को बुलाया पहले इरादा समझाने का था लेकिन प्रेम कहते हैं जिस तरह निशा और उसके साथ का युवक व्यवहार कर रहा था उसके कारण अनूप मोबाइल से वीडियो बनाने लगा और मैं निशा को समझा रहा था कि तुम्हें ऐसा नहीं करना चाहिए इससे आक्रोशित होकर उसने अनूप का मोबाइल छीन कर पटक दिया और उसके साथी ने कुछ लड़कों को बुलाकर हमारे साथ अभद्रता और पिटाई की निशा का मुकदमा तो दर्ज हो गया लेकिन हम लोगों का मुकदमा अभी तक दर्ज नहीं हुआ है हालांकि प्रेम कहता है उन लोगों ने निशा को ज्योति मौर्या नहीं कहा लेकिन विवाद के बाद जब लोग इकट्ठा हुए और अनूप ने अपनी आपबीती बताई तो लोगों कहने लगे यह तो ज्योति मौर्या है और ज्योति मौर्या जैसी पूरी कहानी है ।

प्रेम प्रजापति ( निशा के पति का भाई ) …मैं वहां पर रायबरेली रोड पर एक मिस्त्री है बाइक की मुझे बाइक बनवानी थी मैं उनके पास गया था मैंने कहा मुझे बाइक बनवानी है उन्होंने कहा कि आज नहीं कल ले आना फिर मेरे पास फोन आ गया मैं फोन पर बात कर रहा था यह जो मेरे छोटे भाई अनूप हैं इनकी पत्नी एक लड़के के साथ में हाथ में हाथ डाल कर के वह जा रही थी रोड से वह कुछ दूर गई वहां खड़ी हो गई और उसके बाद मैंने उनको अशोभनीय देखा वह कभी उनके कंधे पर हाथ रख रहा है और मुझे बहुत ही बुरा लगा शादी इनकी हुई है लेकिन अभी कोई कोई छोड़ा नहीं गया है और जो कोर्ट में हमारे भाई साहब ने जो अपील लगाई है वह विदाई के लिए लगाई है अभी भी हम उसको अपनी बहू ही मानते हैं मैंने सोचा कि यह बुरा है अच्छा नहीं है अभी और कोई देखेगा तो कैसा लगेगा इस कारण से मैंने अपने छोटे भाई को फोन किया और पूछा कहां पर हो वह पास में ही मुमताज नगर के पास में था मैंने बोला कि इस तरह की बात है तुम्हारी पत्नी किसी पराए लडके के साथ में है बोला कि ठीक मैं आता हूं मैंने कहा कि समझाते हैं हो सकता है बातचीत से मान जाए और मैं गया बातचीत करने लगे और लड़के का पता पूछने लगे कि तुम कौन हो और पूछा कि इनको जानते हो यह कौन है और वह इनकी पत्नी पूछने लगे कि तुम कौन होते हो बात करने वाले और मैंने कहा कि तुम मेरे छोटे भाई की पत्नी हो तो कहा कि कैसी पत्नी कहा कि हमारा रिश्ता तो टूट गया है हमारा तो तलाक हो गया है और फिर मैंने कहा कि कहा तलाक हुआ है अभी तो मामला कोर्ट में चल रहा है विदाई का दावा किया है आप घर पर चलो कहा कि मुझे नहीं जाना है उस घर में और वह लड़का इस तरीके से अग्रेषित हो गया और फिर न जाने किस को फोन पर बुलाया अनूप वीडियो बना रहे थे इनका मोबाइल लिया पटक दिया नीचे और वह टूट गया वीडियो मैंने इसलिए बनवाया की आज मैं इस से बात कर रहा हूं आगे चलकर के मेरे खिलाफ कोई कार्यवाही ना हो मैंने कोई भी ऐसा अशोभनीय वर्ल्ड नहीं बोला मैं घर के बच्चे की तरह पूछ रहा था और फिर उन्होंने लड़के को बुलवाया हमें मारा मेरे छोटे भाई को भी मारा चोट बहुत आई है मैंने मेडिकल करवाया है अपना और फिर चौकी से बुलावा आया मैं वहां भी गया वहां पर काफी पूछताछ हुई और मेरे खिलाफ f.i.r भी दर्ज करा दी है और उनकी f.i. r दर्ज हो गई वहां पर जो लोग इकट्ठा थे वह हमसे पूछ रहे थे कि यह कैसा प्रकरण है मैंने कहा कि इनको पढ़ाया B.Ed कराया उसके बाद यह अपने मायके चली गई तब लोगों ने कहा कि यह ज्योति मौर्या जैसा मामला है हम लोगों ने कुछ भी ऐसा नहीं कहा हम चाहते हैं कि उनका एफ आई आर दर्ज कर लिया गया है उनकी सुनवाई होगी मेरी भी सुनवाई की जाए मेरी कहीं भी कोई भी बात सुनी नहीं गई मैं दर-दर भटक रहा हूं और मेरे खिलाफ एफ आई आर भी दर्ज हो गया है।

निशा और अनूप के बनते बिगड़ते रिश्तों की पड़ताल करने हम अनूप के घर गए तो वहां उसकी मां और पड़ोसियों से हमने बात की बात करते-करते अनूप की मां जहां रोने लगी वही उसकी पड़ोसी महिला कहती है कि अनूप जैसा निशा को कोई दूसरा नहीं मिलेगा निशा ने बड़ी गलती की है।

चंद्रकला देवी (अनूप की मां.).. मेरे घर पर कुछ हुआ नहीं है वह सब कुछ जाल बिन करके गई है हमारे लड़के ने B.Ed करा दिया वह जैसे ही पास हुई अपने पिताजी को बुलाकर के भाग ली मेरे बेटे के साथ अकेले रहती थी बनाती खाती थी कोई भी परिवार में खिलाया नहीं कम से कम अपना तो सुख में रहना चाहिए था।

अनुबाला सिंह ( पड़ोसी ) … जिस तरह से यहां पर थी वह इस तरह से कहीं पर अलग नहीं रह पाएंगे पढ़ाया लिखाया ग्रेजुएट बना दिया उनको जब वह पढ़ लिख लिए जितना उनको अनूप ने दिया है सुख शांति उतना कोई उनको नहीं देख सकता अनूप की मां थी लेकिन अपनी मां को छोड़ कर के उनके साथ रहता था यह गलत हो रहा है अनुप के साथ यह बार-बार गलत हो रहा है इसमें कोई भी सच्चाई नहीं है निशा के पास कोई सच्चाई है ही नहीं जो भी कर रही है निशा व फर्जी कर रही है यह कोई अच्छी चीज नहीं है।

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति