Sunday, June 16, 2024
spot_img

जल ज्ञान यात्रा के जरिए छात्र देखेंगे पानी से बदलती यूपी की तस्वीर

‘जल ज्ञान यात्रा’ के जरिए छात्र देखेंगे पानी से बदलती यूपी की तस्वीर

JOIN

-योगी सरकार का अनूठा प्रयास, स्कूली छात्र-छात्राओं को कराई जाएगी एक्सपोजर विजिट

-सभी जनपदों से चुने जाएंगे छात्र-छात्राएं, बनेंगे जल जीवन मिशन के विकास कार्यों के गवाह

-प्रत्येक विद्यालय से अधिकतम 10-10 छात्र-छात्राओं एवं 2-2 नोडल अध्यापकों का होगा चयन

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के स्कूलों के बच्चे अब गांव-गांव जाकर जल जीवन मिशन के विकास कार्यों के गवाह बनेंगे। योगी सरकार परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को जल ज्ञान यात्रा कार्यक्रम के माध्यम से एक्सपोजर विजिट कराएगी। इसके लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने सभी जिलों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखकर स्कूलों व बच्चों की अधिकृत सूची राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन कार्यालय को प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। उल्लेखनीय है कि नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग और बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से जल ज्ञान यात्रा कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम के जरिए छात्र जल जीवन मिशन द्वारा बीहड़ क्षेत्रों में भी स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने की पूरी प्रक्रिया के साक्षी बनेंगे। पहली बार देश में किसी प्रदेश द्वारा किया जाने वाला यह अनूठा प्रयास है, जिसमें स्कूली छात्र-छात्राओं को प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना का हिस्सा बनाते हुए पूरे कार्यक्रम की छोटी से छोटी जानकारी दी जाएगी।

प्रत्येक विद्यालय से चुने जाएंगे 10 छात्र व 10 छात्राएं
महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरण आनंद की ओर से समस्त बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि जल ज्ञान यात्रा कार्यक्रम के लिए प्रत्येक विद्यालय से अधिकतम 10-10 छात्र-छात्राओं का चयन तथा 2-2 नोडल अध्यापकों का चयन किया जाएगा। ऐसे बच्चों का प्राथमिकता पर चयन किया जाएगा जिन्होंने राष्ट्रीय अविष्कार अभियान में प्रतिभाग किया हो तथा 2022-23 में उनके द्वारा शैक्षिक भ्रमण कार्यक्रम में प्रतिभाग से वंचित रहे हों। एक्सपोजर विजिट के लिए विद्यार्थियों का चयन करते समय यह भी ध्यान रखना होगा कि छात्र-छात्रा दोनों को समान रूप से प्रतिभाग का अवसर प्राप्त हो। इसके अलावा छात्र-छात्राओं का एकत्रीकरण, सुरक्षा एवं संरक्षा, भ्रमण, सुरक्षित घर वापसी जैसी व्यवस्थाओं का उत्तरदायित्व बीएसए का होगा।

दिखाए जाएंगे एसटीपी, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट
जल ज्ञान यात्रा कार्यक्रम की शुरूआत इस माह में होगी। छात्र-छात्राओं के समूहों को जल ज्ञानयात्रा के दौरान एसटीपी, वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट को दिखाया जाएगा। इस निशुल्क जल ज्ञान यात्रा के पहले चरण में लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, प्रयागराज, वाराणसी, महोबा व झांसी की यात्रा कराई जाएगी। इस यात्रा के दौरान खेल-खेल में बच्चों से प्रश्नोत्तरी के माध्यम से प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा। प्रदेश के छात्र-छात्राओं को जल जीवन मिशन की हर घर जल योजना द्वारा विकास कार्यों की जानकारी जल ज्ञान यात्रा के जरिए मिलेगी।

बुंदेलखंड की बदलती तस्वीर भी देखेंगे बच्चे
जल जीवन मिशन द्वारा बुंदेलखंड की बदलती तस्वीर को भी बच्चे करीब से देख पाएंगे। विभाग की ओर से जल्द ही जल ज्ञान यात्रा कार्यक्रम के तहत बुंदेलखंड में मेगा विजिट का आयोजन किया जाएगा। जल जीवन मिशन के तहत बुंदेलखंड जैसे बीहड़ इलाकों में कैसे कठिन हालातों के बावजूद भी हर घर स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति को सुनिश्चित करने में सफलता हासिल की है, उसकी जानकारी बच्चों को दी जाएगी। इसके साथ ही यूपी के हर जिले में पांच-पांच स्कूलों को एजुकेशन पार्टनर के तौर पर चिन्हित किया जाएगा जिससे वो बच्चों को जल के प्रति जागरूक कर सकें।

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति