Thursday, June 13, 2024
spot_img

नकल विहीन व शांतिपूर्ण परीक्षा संपन्न कराने में स्टैटिक मजिस्ट्रेट की भूमिका सबसे अहम – डीएम

नकल विहीन व शांतिपूर्ण परीक्षा संपन्न कराने में स्टैटिक मजिस्ट्रेट की भूमिका सबसे अहम – डीएम

JOIN

परीक्षार्थियों के जूते मोजे उतरवाकर नहीं ली जाएगी परीक्षा – डीएम

स्ट्रांग रूम में कोई भी मोबाइल लेकर नहीं कर सकेगा प्रवेश – डीएम

डीएम ने सेक्टर व स्टैटिक मजिस्ट्रेट को दिए नकल विहीन परीक्षा कराने के निर्देश

सभी अधिकारी अपने दायित्वों को भली भांति समझ कर संपन्न कराए परीक्षा

गोंडा। नकल विहीन परीक्षा में किसी भी गलती के लिए स्टैटिक मजिस्ट्रेट जिम्मेदार होंगे। सभी सेक्टर, जोनल मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्र के केंद्रों का भ्रमण करके मूलभूत सुविधाओं का अवलोकन कर लें। यदि किसी भी केंद्र पर कमी है तो उसे पूर्ण कर लिया जाए। परीक्षार्थियों का जूता-मोजा उतरवाकर परीक्षा न ली जाये। परीक्षा के विषय में प्रेस अथवा मीडियों को किसी भी प्रकार की ब्रीफिंग न की जाये, स्ट्रांग रूम में कोई भी मोबाइल लेकर प्रवेश न करे, परीक्षा पत्र की गोपनीयता बनी रहे, सभी केंद्रों पर लाइट, पानी, शौचालय आदि की उचित व्यवस्था अवश्य हो, बच्चों से किसी प्रकार का अभद्र व्यवहार ना किया जाए, बालिका परीक्षार्थियों की तलाशी पुरूष सदस्य द्वारा न ली जाए।

सभी निर्देश 16 फरवरी से शुरू होने वाली उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की बोर्ड परीक्षाओं को नकल विहीन व शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को लेकर हुई बैठक में डीएम ने स्टैटिक व सेक्टर मजिस्ट्रेट को दिए। सोमवार को जिला पंचायत सभागार में आयोजित बैठक में डीएम डॉ उज्ज्वल कुमार ने कहा कि इस बार बोर्ड परीक्षाओं को नकल विहीन व शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने में सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी स्टैटिक मजिस्ट्रेट को दी गई है। सभी स्टैटिक मजिस्ट्रेट अपने-अपने केंद्रों का भ्रमण करके मूलभूत सुविधाओं का अवलोकन कर लें। यदि किसी भी केंद्र पर कोई कमी है तो उसे पूर्ण कर लिया जाए। कोई भी समस्या आने पर सीधे कंट्रोल रूम या डीआईओएस को संपर्क करें।


हर केंद्र में सीसीटीवी कैमरा, प्रकाश, पंखा, महिला व पुरुष के लिए अलग शौचालय होना चाहिए। पेपर खोलते समय यह अवश्य चेक कर लें कि जिस विषय की परीक्षा है उसी विषय का पेपर है या नहीं। परीक्षा केंद्र से निर्धारित दूरी तक कोई फोटो कॉपी, स्कैनर आदि की कोई दुकान खुली न रहे। परीक्षा में मोबाइल, कैलकुलेटर, इलेक्ट्रानिक डिवाइस पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। उन्होंने बताया कि परीक्षा केंद्रों पर पुलिस बल मुस्तैद रहेगा। छोटी सी छोटी घटना पर भी कार्रवाई होगी। स्ट्रांग रूम की सुरक्षा में 24 घंटे सशस्त्र पुलिस बल तैनात रहेगा। बैठक में डीआईओएस ने बताया कि जनपद में 143 परीक्षा केंद्र बनाए गए। 16 फरवरी से शुरू होने वाली परीक्षाएं चार मार्च को समाप्त होंगी।

सभी परीक्षा केंद्रों के अन्दर बाहर रहेगी व्यापक सुरक्षा व्यवस्था

बैठक में सीओ सिटी ने बताया कि सभी 143 परीक्षा केंद्रों पर एक पुरूष व एक महिला आरक्षी व एक होमगार्ड मौजूद रहेंगे जबकि संवेदनशील 13 परीक्षा केंद्रों पर एक एसआई, एक पुरुष व एक महिला आरक्षी और एक हेड कांस्टेबल व होमगार्ड की तैनाती रहेगी। इसके अलावा चार सचल दल प्रभारी भी बनाए हैं जिनके साथ दो-दो आरक्षी रहेंगे। यह दल भ्रमण कर परीक्षा केंद्रों के आसपास एकत्रित होने वाले अराजक तत्वों पर नजर रखेंगे। उन्होंने बताया कि सभी परीक्षा केंद्र पर व्यापक सुरक्षा व्यवस्था रहेगी, किसी भी प्रकार की अराजकता फैलाने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

तीनों की उपस्थिति में ही खोला जाएगा डबल लॉक

जिलाधिकारी ने स्टैटिक मजिस्ट्रेट को स्पष्ट निर्देश दिये कि स्टैटिक मजिस्ट्रेट परीक्षा से एक घंटे पहले केंद्र पर हर हाल में पहुंच जाएं। साथ में अपनी उपस्थिति में केंद्र व्यवस्थापक एवं अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक से निर्धारित समय पर डबल लॉक को खुलवा कर उस दिन निर्धारित विषय के प्रश्न पत्र को निकलवा व डबल लॉक को शील्ड करवाएं। किसी एक की उपस्थिति में डबल लॉक खोलने की अनुमति नहीं होगी।

परीक्षा होने के बाद निर्धारित प्रारूप में भेजनी होगी सूचना

जिलाधिकारी ने केंद्र व्यवस्थापक, अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि वे परीक्षा संपन्न होने के बाद एक निर्धारित प्रारूप में परीक्षा से संबंधित सभी आवश्यक सूचनाएं डीआईओएस को उपलब्ध कराएंगे। निर्धारित प्रारूप में परीक्षा तिथि, परीक्षा का विषय, उपस्थित परीक्षार्थियों की संख्या, परीक्षा केंद्र का नाम व संख्या आदि विवरण भरना होगा।
डीएम ने कहा कि सभी केंद्र व्यवस्थापक प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थियों के बैठने, पार्किंग, पेयजल, प्रकाश व शौचालय का इंतजाम करा लिया जाए। जिला प्रशासन बोर्ड परीक्षा को नकलविहीन आयोजित कराने के लिए कटिबद्ध है। किसी भी परीक्षार्थी को मोबाइल अथवा कोई भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लेकर जाने की अनुमति नहीं होगी। बैठक में अपर जिलाधिकारी डीआईओएस व अन्य संबंधित कर्मचारी उपस्थित रहे।

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति