Friday, June 21, 2024
spot_img

राम की अयोध्या ने भी दिया विकास का साथ, मिले 19,042.82 करोड़ के निवेश प्रस्ताव

राम की अयोध्या ने भी दिया विकास का साथ, मिले 19,042.82 करोड़ के निवेश प्रस्ताव

JOIN

अयोध्या में आयोजित हुई इन्वेस्टर्स समिट

44,997 रोजगार का होगा सृजन, 214 निवेशकों ने एमओयू पर किए हस्ताक्षर

अध्यात्म, पर्यटन-संस्कृति के लिहाज से समृद्ध अयोध्या में विकास को लगेंगे पंख

अयोध्या। 1 फरवरीः योगी सरकार में अयोध्या का विकास देश ही नहीं, बल्कि दुनिया में भी जाने जाना लगा है। अयोध्या में 500 वर्ष की प्रतीक्षा के बाद जहां भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है, वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में यातायात, कानून व्यवस्था के साथ-साथ संपूर्ण जिले का विकास हो रहा है। पर्यटन के दृष्टिकोण से सबसे समृद्धशाली शहर में बड़े स्तर पर निवेशकों ने भी रूचि दिखाई है। निवेशकों को सरकार की नई औद्योगिक नीतियों को बताने व निवेशकों की समस्याओं के समाधान के लिए बुधवार को अयोध्या में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया गया। यहां 19,042 .82 करोड़ के निवेश का प्रस्ताव प्राप्त हुआ, जिससे 44997 रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

बुधवार को आयुक्त कार्यालय के गांधी सभाकक्ष में जनपद स्तरीय इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया गया। औद्योगिक विकास, निर्यात प्रोत्साहन व एनआरआई मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इन्वेस्टर्स समिट में लगभग 214 निवेशकों ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। उपायुक्त उद्योग अमरेश कुमार पांडेय ने एमएसएमई नीति- 2022 व 10 से 12 फरवरी तक होने वाली इन्वेस्टर्स समिट के बारे में बताया।

44997 रोजगारों का होगा सृजन
अयोध्या में एमएसएमई क्षेत्र में 527.20 करोड़, यूपीसीडा में 845 करोड़ रुपये, पर्यटन में 6176.15 करोड़ रुपये व विकास प्राधिकरण से जु़ड़े 4037 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए। यहां कुल कुल 19 विभागों से जुड़े 19,042.82 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए, जिससे 44,997 रोजगार का सृजन होगा। समिट में मंत्री ने निवेशकों, उद्यमियों को प्रशस्ति पत्र भी दिया। आईआईए के जिलाध्यक्ष एसपी सिंह, लघु उद्योग भारती के जिला इकाई के अध्यक्ष अविनाश चंद्रा ने भी निवेश व विकास से जुड़े सुझाव दिए।

निवेश के प्राप्त हुए प्रस्ताव, मिलेंगे रोजगार
एमएसएमई व एक्सपोर्ट प्रमोशन के लिए 61 निवेशों पर प्रस्ताव मिले। इससे 4391 रोजगार के अवसर सृजित होंगे। पर्यटन के लिहाज से 60 निवेशों पर एमओयू हुए। इनमें 6176.15 करो़ड़ के जरिए 16276 युवाओं के लिए रोजगार मुहैया कराए जाएंगे। आईटी व इलेक्ट्रॉनिक्स से जुड़े 3 प्रस्तावों 111 करोड़ का निवेश होगा, इसके जरिए 750 युवाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा।

सभी विभागों की ओर से दिया गया प्रजेंटेशन
विभिन्न विभागों के अधिकारियों द्वारा प्रोत्साहन से सम्बन्धित नीतियों यथा टेक्सटाइल पालिसी – 2022, एमएसएमई नीति-2022, आईआईईपी पालिसी-2022 पर्यटन नीति-2022 तथा बैंक द्वारा संचालित वित्तीय योजनाओं का पावर पॉइट प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रस्तुतिकरण किया गया। यूपीसीडा के क्षेत्रीय प्रबंधक केएन श्रीवास्तव व उद्योग के उपायुक्त अमरेश कुमार पांडेय आदि ने अपने-अपने विभागों में चल रहीं योजनाओं से भी निवेशकों को अवगत कराया।

जनपद में औद्योगिक विकास के अनुकूल वातावरण के सृजन का दिलाया विश्वास
मुख्य अतिथि नंदगोपाल गुप्ता नंदी ने अयोध्या में 19,042.82 करोड़ के निवेश प्रस्ताव प्राप्त होने पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने सरकार से मिल रहीं सुविधाएं को सहजता से उपलब्ध कराने का आश्वासन भी निवेशकों को दिया। कार्यक्रम में रुदौली विधायक रामचंद्र यादव, जिलाधिकारी नीतीश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती अनिता यादव आदि ने जनपद में औद्योगिक विकास के अनुकुल वातावरण के सृजन का आश्वासन दिया।

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति