Sunday, June 16, 2024
spot_img

माफिया अतीक और उसके भाई अशरफ की गोली मारकर हत्या

59 / 100

माफिया अतीक व उसके भाई अशरफ की गोली मारकर हत्या

प्रयागराज। प्रयागराज में मेडिकल के लिए ले जाते समय गोली मारकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया। हमलावरों ने अतीक के सिर से सटाकर गन चलाई। इस गोलीबारी में अतीक और उसके भाई अशरफ की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने मौके से ही 3 हमलावरों को गिरफ्तार किया है, जिनकी पहचान लवलेश तिवारी, अरुण मौर्य और सन्नी के रूप में हुई है।

हालांकि पुलिस आयुक्त रमित शर्मा ने आरोपियों के नाम का खुलासा करने से इंकार कर दिया था। हमलावर नकली मीडियाकर्मी बनकर पहुंचे थे। हमलावरों ने अतीक पर हमले के दौरान कई राउंड फायरिंग की। इस घटना में एक कांस्टेबल को बुलेट इंजरी हुई है जिसका नाम मान सिंह बताया जा रहा है। समय माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की मेडिकल कॉलेज के पास बाइस सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

घटना की सूचना पर पुलिस के साथ-साथ प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। मौके पर भारी फोर्स के साथ-साथ कई वरिष्ठ अफसर पहुंच गए थे। गोलीबारी में एक सिपाही भी घायल होने की सूचना है। हमलावरों ने अतीक के सिर से सटाकर गन चलाई। इस गोलीबारी में अतीक और उसके भाई अशरफ की मौके पर ही मौत हो गई।

पुलिस ने मौके से ही 3 हमलावरों को गिरफ्तार किया है. जिनकी पहचान लवलेश तिवारी, अरुण मौर्य और सन्नी के रूप में हुई है। हालांकि पुलिस आयुक्त रमित शर्मा ने आरोपियों के नाम का खुलासा करने से इंकार कर दिया था। हमलावर नकली मीडियाकर्मी बनकर पहुंचे थे। हमलावरों ने अतीक पर हमले के दौरान कई राउंड फायरिंग की। इस घटना में एक कांस्टेबल को बुलेट इंजरी हुई है जिसका नाम मान सिंह बताया जा रहा है।

उमेश पाल हत्याकांड में माफिया अतीक और उसके भाई अशरफ चार दिन की पुलिस कस्टडी में थे। शनिवार को तीसरे दिन धूमनगंज थाने के लॉकअप में बंद अतीक व अशरफ से एटीएस ने हथियार तस्करी की बाबत पूछताछ की थी। रात लगभग साढ़े दस बजे जब दोनों को रूटीन मेडिकल चेकअप के लिए कॉल्विन अस्पताल ले जाया जा रहा था। तभी मीडियाकर्मी बनकर दो बदमाश बाइक से आए और ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरू कर दी।

कैसे हुई ये वारदात?
शनिवार को अतीक अहमद और अशरफ को प्रयागराज में मेडिकल कॉलेज के पास गोली मार दी गई। जब दोनों की हत्या हुई उस समय वे मीडिया से बात कर रहे थे। इस बीच कुछ लोग नकली मीडियाकर्मी बनकर वहां पहुंचे और अतीक एवं अशरफ को बेहद करीब से गोली मार दी। अतीक के सिर में गोली लगी और गोली लगते ही दोनों भाई जमीन पर गिर पड़े और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि दोनों भाइयों की हत्या में शामिल 3 लोगों को पुलिस ने पकड़ा है।

उमेश पाल अपहरण कांड में एमपीएमएलए अदालत ने अतीक को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अतीक अहमद पर सौ से अधिक मुकदमे चल रहे हैं।अतीक अहमद पर 101 मुकदमे दर्ज थे जबकि 65 से अधिक मुकदमे दर्ज थे। मौके से दो पिस्टल और छह खोखे बरामद किए गए हैं। दोनों को कॉल्विन अस्पताल ले जाया गया था। इसी दौरान घटना को अंजाम दिया गया। दोनों के सिर में गोली मारी गई और मौके पर ही दोनों की मौत हो गई।

JOIN

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार

गोली मारने के बाद हमलावरों ने हाथ उठाकर किया सरेंडर
बताया जा रहा है कि हमलावरों के गले में आईडी कार्ड भी था, जिससे आशंका जताई जा रही है कि तीनों मीडियाकर्मी बनकर पब्लिक में आए थे. अशरफ और अतीक को गोली मारने के बाद हमलावरों ने हाथ खड़े कर मौके पर ही सरेंडर कर दिया.

अतीक अहमद की हत्या पर अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया, अखिलेश यादव ने ट्वीट किया
“‘उत्तर प्रदेश में अपराध की पराकाष्ठा हो गयी है और अपराधियों के हौसले बुलंद हैं. जब पुलिस के सुरक्षा घेरे के बीच सरेआम गोलीबारी करके किसीकी हत्या की जा सकती है तो आम जनता की सुरक्षा का क्या. इससे जनता के बीच भय का वातावरण बन रहा है, ऐसा लगता है कुछ लोग जानबूझकर ऐसा वातावरण बना रहे हैं.”

सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर आ रही है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या पर बेहद नाराज हैं और उन्होंने DGP को तलब किया हैं।

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति