Saturday, July 13, 2024
spot_img

पांच जिलों में शत प्रतिशत, 21 जिलों में 90 फीसदी पूरा हुआ डिजिटल क्रॉप सर्वे

पांच जिलों में शत प्रतिशत, 21 जिलों में 90 फीसदी पूरा हुआ डिजिटल क्रॉप सर्वे

JOIN

– बागपत, आजमगढ़, अमरोहा, बलरामपुर और गोंडा में शत प्रतिशत हुआ डिजिटल क्रॉप सर्वे

– 50 प्रतिशत से कम सर्वे वाले जिलों के जिलाधिकारियों को मिली सख्त हिदायत

– 25 सितंबर तक यूपी के 54 जिलों में शत प्रतिशत डिजिटल क्रॉप सर्वे पूरा करने का लक्ष्य

– प्रति सर्वेयर को प्रतिदिन पूरा करना है 50 प्लॉटों का सर्वे, डीएम खुद करेंगे मॉनीटरिंग

लखनऊ । प्रदेश में फसलों के डिजिटल सर्वे का कार्य तेज गति से जारी है। सभी 75 जिलों में सर्वे का कार्य जारी है। वहीं 54 जिलों के 10-10 राजस्व ग्रामों में क्रॉप सर्वे का कार्य भी तेज गति से आगे बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 25 सितंबर तक सभी 54 जिलों में सर्वे के कार्य को पूरा करने का निर्देश दिया है। फिलहाल इनमें से पांच जिलों में शत प्रतिशत सर्वे पूरा कर लिया गया है। वहीं 21 जिलों में कार्य 90 फीसदी से अधिक पूरा हो चुका है। इसके अलावा 13 जिलों में 70 से 90 फीसदी, 13 जिलों में 50 से 70 फीसदी कार्य पूरा किया जा चुका है। जबकि मात्र दो जनपदों में धीमी प्रगति पर मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताई है। जिलाधिकारियों को तेज गति से सर्वे पूरा करने की सख्त हिदायत दी गई है।

किसानों के जीवन में खुशहाली की नई राह खोलेगा डिजिटल क्रॉप सर्वे
बता दें कि मोबाइल एप के जरिए कृषि सहित अन्य विभागों के कर्मचारी खेतों में उगी फसलों का रिकॉर्ड तैयार कर रहे हैं। योगी सरकार इसके जरिए प्रदेश में पैदा की जा रही फसलों का पूरा डेटा तैयार करा रही है। सर्वे के माध्यम से फसलों के जो आंकडे़ प्राप्त होंगे, उससे प्रदेश के किसानों के लिए योजना बनाने में बहुत सुविधा प्राप्त होगी। डिजिटल क्रॉप सर्वे किसानों के जीवन में खुशहाली की नई राह खोलने का एक उपक्रम है।

1.19 करोड़ से अधिक कृषि प्लॉटों का हो रहा डिजिटल क्रॉप सर्वे
सर्वे के कार्य में लगे प्रत्येक सर्वेयर को प्रतिदिन 50 प्लॉटों का सर्वे करने का लक्ष्य दिया गया है, जिसकी मॉनीटरिंग स्वयं जिलाधिकारी करेंगे। पूरे प्रदेश में इस कार्य में कुल 5764 सर्वेयर लगाये गये हैं, जिसमें 1437 कृषि विभाग, 2733 राजस्व विभाग और 1594 पंचायत सहायक हैं। इन्हें प्रदेश के 27641 ग्रामों में कुल 1.19 करोड़ से अधिक कृषि प्लॉटों का डिजिटल क्रॉप सर्वे करना है।

किस जिले में कितनी प्रगति
अपडेट आंकड़ों की बात करें तो बागपत, आजमगढ़, अमरोहा, बलरामपुर और गोंडा में सर्वे का कार्य शत प्रतिशत पूरा कर लिया गया है। इसके अलावा गाजीपुर, अंबेडकर नगर, सोनभद्र, बलिया, मुजफ्फरनगर, फतेहपुर, अलीगढ़, आगरा, हाथरस, बरेली, ललितपुर, मेरठ, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, अमेठी, सहारनपुर, गौतमबुद्ध नगर, श्रावस्ती, रायबरेली और महाराजगंज में सर्वे का कार्य 90 फीसदी से ऊपर पूरा कर लिया गया है। इसी प्रकार बांदा, गाजियाबाद, शाहजहांपुर, कानपुर नगर, रामपुर, सिद्धार्थनगर, उन्नाव, बदायूं, संभल, शामली, लखनऊ, बहराइच और कुशीनगर में सर्वे का कार्य 70 से 90 फीसदी पूरा हो चुका है। जबकि पीलीभीत, बिजनौर, मऊ, इटावा, मथुरा, कन्नौज, प्रयागराज, मैनपुरी, एटा, कासगंज, कानपुर देहात, सीतापुर और लखीमपुर खीरी में कार्य 50 से 70 फीसदी के बीच पूरा हुआ है। वहीं मात्र दो जनपद हापुड़ और बाराबंकी में अभी भी 50 फीसदी से कम कार्य हुआ है। इसे लेकर मुख्यमंत्री ने दोनों जिलों के जिलाधिकारियों को सख्त हिदायत दिये हैं।

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति