Sunday, February 25, 2024
spot_img

मकर संक्रांति और माघ मेले के मद्देनजर हिदायत जारी -डीएम ने कहा-प्रोटिकल को हो कड़ाई से पालन,लक्षण दिखने पर करायें जांच  

59 / 100

अयोध्या। मकर संक्रांति और माघ मेले के मद्देनजर कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन की ओर से एडवाइजरी जारी की गई है।  एडवाइजरी में प्रोटोकाल का सख्ती से पालन कराने के साथ त्यौहार को सतर्कता से मनाने की अपील की गयी है।  शासन की एडवाइजरी के बाद जिलाधिकारी नितीश कुमार ने हिदायत जारी की है।  हिदायत में कहा है कि मकर संक्रांति एवं माघ मेले के अवसर पर स्नान आदि के कारण आम श्रद्वालुओं, लोगों से कोविड संक्रमण से बचाने के लिए त्यौहार को सतर्कता से मनाया जायेगा।अपर जिला मजिस्ट्रेट सलिल कुमार पटेल को नगरीय क्षेत्र तथा अपर जिला मजिस्ट्रेट प्रशासन अमित सिंह को ग्रामीण क्षेत्र के लिए कानून व्यवस्था का प्रभारी बनाया गया है।

  वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश पांडेय की ओर से पुलिस अधिकारियों एवं सम्बंधित अधिकारियों को मकर संक्रांति के अवसर पर कोविड संक्रमण के प्रभाव को रोकने हेतु निर्देश दिये गये है। उन्होंने बताया कि शासन के निर्देशानुसार पर्व पर सरयू नदी में स्नान और दर्शन पूजन को लेकर कोविड के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए उसे बढऩे से रोकने के लिए कोविड नियमों सोशल डिस्टेसिंग, मास्क का प्रयोग तथा सेनेटाइजर के प्रयोग की अनिवार्यता का कड़ाई से अनुपालन किया जाय। आम जन मानस से यह अपील की जाय कि मकर संकान्ति स्नान एवं मेले में उन्हीं व्यक्तियों को अनुमति दी जायेगी जिन्होंने कोविड वैक्सीन की दोनों डोज ले ली हो। विभिन्न बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति, वरिष्ठ नागरिक, गर्भवती महिलायें, बच्चे तथा ऐसे व्यक्ति जिनमें कोविड के लक्षण जैसे खांसी, जुखाम, बुखार इत्यादि है, वह मेला और स्नान वाली जगह पर न जायें।पर्व के दौरान पर्याप्त पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से लोगों को कोविड़ के सम्बन्ध में जागरूक किया जाय तथा आम जनमानस को मास्क लगाने, भीड़ एकत्रित न करने के लिए कोविड गाइडलाइन्स के अनुपालन के लिए प्रेरित किया जाय।

  मकर संक्रान्ति के मेले और स्नान स्थलों पर थर्मल स्कीनिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय तथा कोई व्यक्ति सर्दी खांसी, जुखाम, बुखार आदि के लक्षण से ग्रसित हो तो उससे तत्काल आरटीपीसीआर, टूनाट, एण्टीजन टेस्ट की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। निर्देश दिया है कि जनपद में जहां मकर संक्रान्ति का स्नान होता है व मेला लगता है, वहां स्वास्थ्य विभाग के डाक्टर्स की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय, जिससे आवश्यकतानुसार चिकित्सकीय सुविधा तत्काल उपलब्ध करायी जा सके। साथ ही सम्बन्धित विभागों द्वारा आपस में समन्वय स्थापित करके समुचित साफ-सफाई एवं सेनेटाइजेशन की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। जनपद के सभी क्षेत्रीय मजिस्ट्रेटों, पुलिस अधिकारियों अन्य सभी सम्बन्धित विभागों द्वारा कोविड़ के ओमीकान वैरियंट के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत रखते हुए संक्रमण दर को नियंत्रित करने हेतु विभिन्न स्थलों पर विशेष सावधानी एवं सतर्कता बरतें। साथ ही सभी अधिकारियों द्वारा कोविड़ की गाइड लाइन का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय।

जिलाधिकारी ने कहा है कि उप जिला मजिस्ट्रेट सदर अपने स्तर से आवश्यक स्थलों पर तहसील स्टाफ की ड्यूटी लगाकर अवगत करायेगें। साथ ही अधीक्षक, राजकीय उद्यान, गुप्तारघाट पर एवं अधिशासी अभियन्ता सिंचाई खण्ड, सरयू नहर खण्ड अयोध्या के नयाघाट, कच्चाघाटों पर अपने विभागीय अधिकारियों की ड्यूटी लगाते हुए अवगत कराये एवं शांति व्यवस्था सुनिश्चित करायेगें। नगर मजिस्ट्रेट एवं रेजीडेण्ट मजिस्ट्रेट अयोध्या अपने-अपने आवंटित क्षेत्र एवं समस्त उप जिला मजिस्ट्रेट, जनपद अयोध्या अपनी-अपनी तहसील के सम्पूर्ण क्षेत्रों में सम्बन्धित पुलिस क्षेत्राधिकारियों के साथ समन्वय कर लोक शान्ति सुरक्षा एवं कानून तथा यातायात व्यवस्था बनाये रखने हेतु आवश्यक कार्यवाही करेंगे।  

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति