Saturday, April 20, 2024
spot_img

मधुरेश रचित सुमन सौरभ सच्चे जीवनसाथी की गहरी संवेदनाएं एवं भावनाओं का पावन दस्तावेज़ : तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु

मधुरेश रचित सुमन सौरभ सच्चे जीवनसाथी की गहरी संवेदनाएं एवं भावनाओं का पावन दस्तावेज़ : तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु

JOIN

अंबेडकरनगर ! मालीपुर रोड अकबरपुर स्थित सिटी गार्डन के सभागार में जनपद के वरिष्ठ साहित्यकार आचार्य भानु दत्त त्रिपाठी मधुरेश द्वारा रचित स्मृति ग्रंथ सुमन–सौरभ का भव्य लोकार्पण हुआ ! पूर्व प्रोफेसर मुनींद्र नाथ मिश्र की अध्यक्षता व चर्चित कवि व मंच संचालक तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु के संचालन में लोकार्पण समारोह के मुख्य अतिथि सदस्य विधान परिषद पूर्व सांसद अंबेडकरनगर डॉ हरिओम पांडेय रहे वहीं कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ मिथिलेश त्रिपाठी , प्रोफेसर डॉक्टर सुचिता पांडेय प्राचार्य बीएनकेबी पीजी कॉलेज अकबरपुर एवं पूर्व चेयरमैन नगर पालिका अकबरपुर चंद्र प्रकाश वर्मा की उपस्थिति रही !

कार्यक्रम का शुभारंभ गणमान्य नागरिकों के बीच मुख्य अतिथि द्वारा स्वर्गीय साध्वी सुमन त्रिपाठी की प्रतिमा पर दीप प्रज्वलन एवं माल्यार्पण के साथ किया गया ! कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने साध्वी सुमन की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए ! मंचासीन अतिथियों का बैज अलंकरण तथा माल्यार्पण करते हुए अंग वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया गया ! छात्रा कीर्ति अतिथियों के सम्मान में स्वागत गीत प्रस्तुत किया !

सुमन–सौरभ के लोकार्पण पर वक्ताओं ने रचनाकार आचार्य भानुदत्त त्रिपाठी मधुरेश को शुभकामनाएं देते हुए स्वर्गीय साध्वी सुमन त्रिपाठी की पावन स्मृतियों का वर्णन करते हुए अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी ! अपने संबोधन में असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ मनोज अग्रहरि ने कवि मधुरेश को संवेदनाओं का सच्चा जीवन साथी बताते हुए श्रेष्ठ गुरु की संज्ञा दी !

संत लक्ष्मीकांत त्रिपाठी ने अपने वक्तव्य में कई सूक्तियां व शेर पढ़ते हुए साध्वी सुमन त्रिपाठी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी ! श्री त्रिपाठी ने कवि मधुरेश की रचना धर्मिता को मानव समाज के लिए उपयोगी बताया ! संचालक तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु ने कविता और शेरों की पंक्तियों के साथ कार्यक्रम में चार चांद लगाया ! जिज्ञासु ने सुमन सौरभ को सच्चे जीवनसाथी की गहरी संवेदनाएं एवं भावनाओं का पावन दस्तावेज़ बताते हुए साहित्यकार मधुरेश को मंगलमय जीवन की शुभकामनाएं दी !

श्री जिज्ञासु ने संचालन के दौरान पुस्तक के कुछ अंश का वाचन करते हुए सुमन–सौरभ को अर्धांगिनी के प्रति सच्ची निष्ठा प्रेम व समर्पण का स्मृति ग्रंथ कहा ! प्राचार्या डॉ सुचिता पांडेय ने सुमन–सौरभ के लोकार्पण पर प्रसन्नता व्यक्त की ! सफलतापूर्वक संचालित हो रहे लोकार्पण समारोह में आए हुए अतिथियों को को सुमन –सौरभ पढ़ने की सलाह देकर साध्वी सुमन त्रिपाठी के प्रति श्रद्धा सुमन अर्पित किया ! भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ मिथिलेश त्रिपाठी ने भावी समाज के लिए मधुरेश द्वारा रचित सुमन सौरभ को अनुकरणीय बताया !

अपने पूर्वजों की विरासत और उनके प्रति श्रद्धा भाव व्यक्त करते हुए इस तरह के साहित्य के प्रति अपना अनुराग जताते हुए लोगों को सुमन सौरभ का अध्ययन करते हुए अपने घर परिवार तथा पास पड़ोस में भाईचारा व प्रेम बनाए रखने की अपील की ! विधान परिषद सदस्य पूर्व सांसद डॉ हरिओम पांडे ने स्मृति ग्रंथ सुमन–सौरभ को रचनाकार की बेहतर कृति बताते हुए स्वर्गीय सुमन त्रिपाठी को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए मधुरेश को शुभकामनाएं दी !

अंत में प्रोफेसर डॉक्टर मुनींद्र नाथ मिश्र ने अध्यक्षीय संबोधन में कवि मधुरेश को भावनाओं का संवाहक बताते हुए आज के कार्यक्रम में आए हुए अतिथियों को इस तरह के साहित्यिक कार्यक्रमों से जुड़ने के प्रति प्रेरित किया ! मधुरेश द्वारा अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर आभार व्यक्त करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया ! इस अवसर पर राघवेंद्र त्रिपाठी , गौतम दुबे , प्रियांशु त्रिपाठी , सक्षम त्रिपाठी , विनायक तिवारी , सुचिता पांडेय , मनोज कुमार त्रिपाठी , सीमा त्रिपाठी एवं अमित पांडेय मौजूद रहे !

JOIN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

For You
- FOLLOW OUR GOOGLE NEWS FEDS -spot_img
डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विश्वविद्यालय अयोध्या , परीक्षा समय सारणी
spot_img

क्या राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने से कांग्रेस को फायदा हो सकता है?

View Results

Loading ... Loading ...
Latest news
प्रभु श्रीरामलला सरकार के शुभ श्रृंगार के अलौकिक दर्शन का लाभ उठाएं राम कथा सुखदाई साधों, राम कथा सुखदाई……. दीपोत्सव 2022 श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने फोटो के साथ बताई राम मंदिर निर्माण की स्थिति