अयोध्यालाइव

  अग्निपथ स्‍कीम : चार साल बाद ‘अग्निवीर’ का भविष्य कैसे होगा उज्ज्वल जानिए

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
चार साल बाद ‘अग्निवीर’ का भविष्य कैसे होगा उज्ज्वल जानिए

Listen

Advertisements

अग्निपथ स्‍कीम : चार साल बाद ‘अग्निवीर’ का भविष्य कैसे होगा उज्ज्वल जानिए

4 साल के बाद अग्निवीर का भविष्य कैसा होगा ? इसे लेकर सभी और चर्चाएं जारी हैं। वहीं काफी सारे युवा ‘अग्निपथ योजना’ को लेकर असमंजस में नजर आ रहे हैं। दरअसल, युवाओं को अग्निवीर की चार साल की सर्विस के आगे अनिश्चितताओं भरी राह नजर आ रही है। इन सबके बीच केंद्र सरकार युवाओं को आश्वस्त करने में जुटी है। देखा जाए तो यह समय अपने भीतर आत्मविश्ववास जगाने और सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होने का है। वर्तमान में पीएम मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार देश की युवा शक्ति पर भरोसा जता रही है तो युवाओं का यह नैतिक कर्तव्य बनता है कि वे भी आगे आएं और राष्ट्र सुरक्षा के लिए खड़े हो। बात यही खत्म नहीं हो जाती। केंद्र सरकार युवा अग्निवीरों को सेना की चार साल की सर्विस के बाद अन्य सरकारी विभागों और मंत्रालयों में भी काम करने का मौका प्रदान करेगी। ऐसे में युवाओं के समक्ष देश सेवा के अनेक मौके हैं। जी हां, यदि युवा इस राह को अपनाते हैं तो आने वाले समय में कोई भी युवा बेरोजगार नहीं बैठेगा। आइए अब विस्तार से जानते हैं कि अग्निवीर को क्या कुछ मिलेगा और उनका भविष्य कैसे उज्ज्वल होगा….

क्या है ‘अग्निपथ’?

ज्ञात हो, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ”14 जून 2022” को भारतीय युवाओं के लिए सशस्त्र बलों में सेवा के लिए एक आकर्षक भर्ती योजना को मंजूरी दी थी। इस योजना को ‘अग्निपथ’ कहा जाता है और इस योजना के तहत चुने गए युवाओं को ”अग्निवीर” कहा जाएगा। अग्निपथ देशभक्त और प्रेरित युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सशस्त्र बलों में सेवा करने की अनुमति देता है।

युवाओं को कैसे मिलेगी मदद ?

अग्निपथ योजना सशस्त्र बलों के युवा प्रोफाइल को सक्षम करने के लिए डिजाइन की गई है। यह उन युवाओं को अवसर प्रदान करेगी जो समाज से युवा प्रतिभाओं को आकर्षित करके वर्दी धारण करने के प्रति इच्छुक हो सकते हैं जो समकालीन तकनीकी प्रवृत्तियों के अनुरूप हैं और समाज में कुशल, अनुशासित और प्रेरित जनशक्ति की पूर्ति करते हैं। जैसा कि सशस्त्र बलों के लिए, यह सशस्त्र बलों के युवा प्रोफाइल को बढ़ाएगा और ‘जोश’ और ‘जज्बा’ का एक नया संसाधन प्रदान करेगा, साथ ही साथ एक अधिक तकनीकी जानकार सशस्त्र बलों की दिशा में एक परिवर्तनकारी बदलाव लाएगा – जो वास्तव में समय की आवश्यकता है।

भारतीय सशस्त्र बलों के लिए कितना जरूरी ?

दरअसल, यह परिकल्पना की गई है कि इस योजना के कार्यान्वयन से भारतीय सशस्त्र बलों की औसत आयु लगभग 4-5 वर्ष कम हो जाएगी। यानि इस वक्त देश को ऐसे फौजी चाहिए, जो अच्छी तरह से लड़ सकें। समझदार, तकनीकी तौर पर कुशल और मानसिक तौर पर मजबूत साहसी जवान सेना के लिए सबसे बेहतर साबित होते हैं। हिमालय रेंज में दूसरे देशों से लगती सीमा पर भारत की सुरक्षा के लिए पहाड़ी क्षेत्रों के दुर्गम पोस्टों पर रक्षा का जिम्मा संभालने के लिए चुस्त और हिम्मत वाले जवानों की जरूरत होती है। ऐसे में इस योजना के तहत युवा सैनिक ही इस जरूरत को पूरा कर सकते हैं। अग्निवीर साढ़े 17 से 21 वर्ष के होंगे। वे इन चुनौती वाले क्षेत्रों में सेना का मजबूत स्तंभ बनेंगे।

राष्ट्र को अत्यधिक लाभ

आत्म-अनुशासन, परिश्रम और ध्यान की गहरी समझ के साथ अत्यधिक प्रेरित युवाओं के संचार से राष्ट्र को अत्यधिक लाभ होता है, जो पर्याप्त रूप से कुशल होंगे और अन्य क्षेत्रों में योगदान करने में सक्षम होंगे। राष्ट्र, समाज और राष्ट्र के युवाओं के लिए एक अल्पकालिक सैन्य सेवा के लाभांश बहुत अधिक हैं। इसमें देशभक्ति की भावना, टीम वर्क, शारीरिक फिटनेस में वृद्धि, देश के प्रति निष्ठा और बाहरी खतरों, आंतरिक खतरों और प्राकृतिक आपदाओं के समय राष्ट्रीय सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए प्रशिक्षित कर्मियों की उपलब्धता शामिल है।

यह तीनों सेनाओं की मानव संसाधन नीति में एक नए युग की शुरुआत करने के लिए सरकार द्वारा शुरू किया गया एक प्रमुख रक्षा नीति सुधार है। नीति, जो तत्काल प्रभाव से लागू होती है, इसके बाद तीनों सेनाओं के लिए नामांकन को नियंत्रित करेगी।

अग्निवीरों को लाभ

अग्निवीरों को तीन सेनाओं में लागू जोखिम और कठिनाई भत्ते के साथ एक आकर्षक अनुकूलित मासिक पैकेज दिया जाएगा। चार साल की कार्यावधि के पूरा होने पर, अग्निवीरों को एकमुश्त ‘सेवा निधि’ पैकेज का भुगतान किया जाएगा, जिसमें उनका योगदान शामिल होगा जिसमें उस पर अर्जित ब्याज और सरकार से उनके योगदान की संचित राशि के बराबर योगदान शामिल होगा।

मिलेगी आयकर से छूट

‘सेवा निधि’ को आयकर से छूट दी जाएगी। ग्रेच्युटी और पेंशन संबंधी लाभों का कोई अधिकार नहीं होगा। अग्निवीरों को भारतीय सशस्त्र बलों में उनकी कार्यावधि के लिए 48 लाख रुपए का गैर-अंशदायी जीवन बीमा कवर प्रदान किया जाएगा।

मिलेगा विशेष सैन्य कौशल

राष्ट्र की सेवा की इस अवधि के दौरान, अग्निवीरों को विभिन्न सैन्य कौशल और अनुभव, अनुशासन, शारीरिक फिटनेस, नेतृत्व गुण, साहस और देशभक्ति प्रदान की जाएगी। चार साल के इस कार्यकाल के बाद, अग्निवीरों को नागरिक समाज में शामिल किया जाएगा जहां वे राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में अत्यधिक योगदान दे सकते हैं। प्रत्येक अग्निवीर द्वारा प्राप्त कौशल को उनके अद्वितीय बायोडाटा का हिस्सा बनने के लिए एक प्रमाणपत्र में मान्यता दी जाएगी।

अग्निवीर के कार्यकाल के बाद दुनिया में प्रगति के लिए मिलेंगे अनेक रास्ते

अग्निवीर, अपनी युवावस्था में चार साल का कार्यकाल पूरा होने पर, पेशेवर और व्यक्तिगत रूप से भी खुद को बेहतर बनाने के एहसास के साथ परिपक्व और आत्म-अनुशासित होंगे। अग्निवीर के कार्यकाल के बाद नागरिक दुनिया में उनकी प्रगति के लिए जो रास्ते और अवसर खुलेंगे, वे निश्चित रूप से राष्ट्र निर्माण की दिशा में काफी लाभदायक होंगे। इसके अलावा, लगभग 11.71 लाख रुपए की सेवा निधि अग्निवीर को वित्तीय दबाव के बिना अपने भविष्य के सपनों को आगे बढ़ाने में मदद करेगी, जो आमतौर पर समाज के आर्थिक रूप से वंचित तबके के युवाओं के लिए होता है।

अधिक युवा और तकनीकी रूप से युद्ध लड़ने वाले बल को मिलेगा बढ़ावा

सशस्त्र बलों में नियमित संवर्ग के रूप में नामांकन के लिए चुने गए व्यक्तियों को न्यूनतम 15 वर्षों की अतिरिक्त सेवा अवधि के लिए सेवा करने की आवश्यकता होगी और भारतीय सेना में जूनियर कमीशंड अधिकारियों/अन्य रैंकों और भारतीय नौसेना और भारतीय वायु सेना में उनके समकक्ष और समय-समय पर संशोधित भारतीय वायु सेना में नामांकित गैर-लड़ाकू सेवा के मौजूदा नियमों और शर्तों द्वारा शासित होंगे। यह योजना सशस्त्र बलों में युवा और अनुभवी कर्मियों के बीच एक अच्छा संतुलन सुनिश्चित करके और अधिक युवा और तकनीकी रूप से युद्ध लड़ने वाले बल को बढ़ावा देगी।

लाभ

• सशस्त्र बलों की भर्ती नीति में परिवर्तनकारी सुधार
• युवाओं को देश की सेवा करने और राष्ट्र निर्माण में योगदान करने का अनूठा अवसर
• सशस्त्र बलों का प्रोफाइल युवा और ऊर्जावान
• अग्निवीरों के लिए आकर्षक वित्तीय पैकेज
• अग्निवीरों के लिए सर्वोत्तम संस्थानों में प्रशिक्षण लेने और उनके कौशल और योग्यता को बढ़ाने का अवसर
• सभ्य समाज में सैन्य लोकाचार के साथ अनुशासित और कुशल युवाओं की उपलब्धता
• समाज में लौटने वालों के लिए पर्याप्त पुन: रोजगार के अवसर और जो युवाओं के लिए रोल मॉडल के रूप में उभर सकते हैं

नियम व शर्तें

अग्निपथ योजना के तहत, अग्निवीरों को चार साल की अवधि के लिए संबंधित सेवा अधिनियमों के तहत बलों में नामांकित किया जाएगा। वे सशस्त्र बलों में एक अलग रैंक बनाएंगे, जो किसी भी मौजूदा रैंक से अलग होंगे। सशस्त्र बलों द्वारा समय-समय पर घोषित की गई संगठनात्मक आवश्यकता और नीतियों के आधार पर चार साल की सेवा पूरी होने पर, अग्निवीरों को सशस्त्र बलों में स्थायी नामांकन के लिए आवेदन करने का अवसर प्रदान किया जाएगा। इन आवेदनों पर उनकी चार साल की कार्यावधि के दौरान प्रदर्शन सहित उद्देश्य मानदंडों के आधार पर केंद्रीकृत तरीके से विचार किया जाएगा और प्रत्येक विशिष्ट बैच के 25 प्रतिशत तक सशस्त्र बलों के नियमित कैडर में नामांकित किया जाएगा। विस्तृत दिशा-निर्देश अलग से जारी किए जाएंगे। चयन सशस्त्र बलों का अनन्य क्षेत्राधिकार होगा। इस साल 46,000 अग्निशामकों की भर्ती की जाएगी।

सभी तीन सेनाओं के लिए एक ऑनलाइन केंद्रीकृत प्रणाली के माध्यम से नामांकन किया जाएगा, जिसमें विशेष रैलियों और मान्यता प्राप्त तकनीकी संस्थानों जैसे औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों और राष्ट्रीय कौशल योग्यता संरचना से कैंपस साक्षात्कार शामिल हैं। नामांकन ‘ऑल इंडिया ऑल क्लास’ के आधार पर होगा और पात्र आयु 17.5 से 21 वर्ष के बीच होगी। अग्निवीर सशस्त्र बलों में नामांकन के लिए निर्धारित चिकित्सा पात्रता शर्तों को पूरा करेंगे जैसा कि संबंधित श्रेणियों/कार्यों पर लागू होता है। विभिन्न श्रेणियों में नामांकन के लिए अग्निवीरों की शैक्षिक योग्यता यथावत रहेगी। {उदाहरण के लिए: जनरल ड्यूटी (जीडी) सैनिक में प्रवेश के लिए, शैक्षणिक योग्यता कक्षा 10 है।

विभिन्न मंत्रालयों से अग्निवीरों को मिलने वाला लाभ:

वित्त मंत्रालय
– व्यवसाय के लिए मुद्रा और स्टैंडअप इंडिया जैसी योजनाओं से अग्निवीरों को ऋण सहायता

दूरसंचार विभाग
– ऑप्टिकल फाइबर मेंटेनेंस, फाइबर टू होम कस्टमर इंटरफेस आदि के क्षेत्रों में रोजगार के अवसर
– दूरसंचार क्षेत्र में अग्निवीरों के उपयोग के तरीकों पर सभी टीएसपी के साथ चर्चा

कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय
– सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, बीमा कंपनियां और वित्तीय संस्थान उपयुक्त ऋण योजनाओं के माध्यम से सहायता करेंगे

कॉर्पोरेट घराने
– अग्निवीरों को अवसर देने की इच्छा व्यक्त की

गृह मंत्रालय
– ईएसएम कोटा के अलावा सभी सीएपीएफ और असम राइफल्स में अग्निवीरों के लिए विशेष रूप से 10 प्रतिशत आरक्षण
– आयु में 3 वर्ष की छूट, पहले बैच के लिए 5 वर्ष की छूट

रक्षा मंत्रालय
– ईएसएम कोटा के अलावा तटरक्षक बल, डिफेंस सिविलियंस और 16 डीपीएसयू में 10 प्रतिशत आरक्षण
– पहले अग्निवीर बैच के लिए आयु में दो वर्ष की छूट

कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय
– ब्रिजिंग कोर्स

नागरिक उड्डयन मंत्रालय
– एटीसी, सुरक्षा, प्रशासन, आईटी, संचार, सप्लाई, चेन मैनेजमेंट, विमानों के मरम्मत और ओवरहाल में अवसर
– संचालन रखरखाव और हवाई यातायात सेवाओं में अवसरों की पहचान की जा रही है

बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय
– भारतीय नौसेना में रेटिंग में मर्चेंट नेवी में सर्टिफाइड रेटिंग होने के अवसर

शिक्षा मंत्रालय
– एनआईओएस से 12वीं पास का प्रमाण पत्र
– 12वीं पास के लिए डिग्री प्रोग्राम: इसकी प्रक्रिया पर काम जारी

अग्निपथ जॉब आर्मी की है, रहना खाना, इलाज वगैरह सब फ्री है, मतलब जो उम्र नुक्कड़ों पर चाय सिगरेट में निकल जाती है, उन 4 सालों में 23 लाख 43 हज़ार 160 रुपये कमाने का सुनहरा अवसर है।

पहला साल- 21,000×12 = 2,52,000
दूसरा साल- 23,100×12 = 2,77,200
तीसरा साल- 25,580×12 = 3,06,960
चौथा साल- 28,000×12 = 3,36,000
_
4 साल सैलरी = 11,72,160 रुपए
रिटायरमेंट पर = 11,71,000 रुपए
_
Total = 23,43,160 रुपए

आप 17 से 23 साल की उम्र के लड़के अग्निपथ योजना के तहत भारतीय सेना को जॉइन जरूर कीजिए। समझिए आपको 4 साल आर्मी की ट्रेनिंग दी जाएगी, साथ मे पैसे भी, जॉब वैसे भी नहीं है, बारहवीं करने के बाद सीधे अग्निपथ के रास्ते पर चले जाइए, यही आपका भविष्य है।
उसके बाद 24-25 की उम्र में रिटायरमेंट के बाद, इन पैसों से कोई बिजनेस शुरू कर लीजिएगा.. लाइफ जैसी अभी चल रही है उससे बेहतर तय है।

https://indianairforce.nic.in/wp-content/uploads/2022/06/Detailed-BRIEF-13-JUN-22.pdf

Agnipath Detailed-BRIEF-13-JUN-22

https://www.voiceofayodhya.com/

https://go.fiverr.com/visit/?bta=412348&brand=fiverrcpa

https://amzn.to/38AZjdT

ADVERTISEMENT
Advertisements

Related News

Leave a Reply

JOIN TELEGRAM AYODHYALIVE

Currently Playing
Coming Soon
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?

Our Visitor

119403
Users Today : 85
Total Users : 119403
Views Today : 119
Total views : 153961
July 2022
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
Currently Playing
July 2022
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

OUR SOCIAL MEDIA

Also Read

%d bloggers like this: