अयोध्यालाइव

Battleground mobile India पर रोक की मांग ?

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest

Listen

Advertisements

PUBG का Indian अवतार Battleground mobile जल्द ही लॉन्च हो सकता है । और उसके लिए Pre- Registration चालू हो चुके हैं, लेकिन चल रही खबरों के अनुसार भारतीय मंत्री बैन की मांग कर रहे हैं।

Pubg mobile एक एक्शन गेम है । जिसके कारण भारत के विभिन्न राज्यों के अलग-अलग नेता यह मांग करते नजर आते हैं की PUBG mobile के latest अवतार Battleground mobile को भारत में लॉन्च नहीं होना चाहिए। इस मुहिम में कुछ लोगों का नाम बिल्कुल साफ सामने आता है। जिसमें तेलंगाना के सांसद धर्मपुरी अरविंद, गढ़चिरौली के सांसद अशोक नेटे, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुरेश नखुआ जैसे कई भाजपा नेताओं ने चीन के Tencent के साथ अपने संबंधों पर चिंता जताई है ।


जो की राष्ट्रीय सुरक्षा जोखिम पैदा करता है।
लेकिन Pubg mobile ने इस बार Battleground mobile गेम को लांच करते वक्त इस बात का पूरी तरह से ख्याल रखा है की किसी भी चाइनीस कंपनी
से मदद किए बिना गेम को भारत मे लॉन्च किया जाए ।
इसके लिए उन्होंने दक्षिण कोरिया की कंपनी kaftron
की मदद ली। और साथ ही चीन की कंपनी Tencent से रुख मोड़ लिया। लेकिन अब भी भारत के अलावा Tencent ही सबको अपनी सर्विसेस देगा ।
इसलिए, कई नेता इसको लेकर चिंता को उठा रहे हैं, और एक विधायक ने यह भी आरोप लगाया कि Battleground India “मामूली संशोधन के साथ एक ही खेल” है और कंपनी इसे भारत-विशिष्ट कहकर “मात्र भ्रम” पैदा कर रही है।


साथ ही अरुणाचल प्रदेश के विधायक, “निनॉन्ग एरिंग” ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र में भी मांग की, कि खेल को भारत में जारी नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि यह अभी भी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जोखिम पैदा कर सकता है – सितंबर 2020 में प्रतिबंधित मूल PUBG मोबाइल के समान। चीनी सरकार के साथ संबंध, मंत्री ने कहा कि चीन स्थित Tencent 15.5 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ क्राफ्टन का “दूसरा सबसे बड़ा हितधारक” बना हुआ है। इसके बाद निजामाबाद के सांसद “धर्मपुरी अरविंद” ने केंद्रीय आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद को लिखे पत्र में प्रतिबंधित पबजी मोबाइल को दोबारा लॉन्च करने पर आपत्ति जताई। पत्र में कहा गया है कि Battleground mobile को “परीक्षा” की आवश्यकता है। गढ़चिरौली (महाराष्ट्र) के सांसद अशोक नेटे और भाजपा प्रवक्ता सुरेश नखुआ ने भी पीएम मोदी से “चीनी कंपनी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।” विशेष रूप से, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक सिंघवी ने आरोप लगाया कि केंद्र की सत्ताधारी पार्टी ‘पबजी 2’ को लॉन्च करने की अनुमति देकर “युवाओं का ध्यान” हटा रही है। “सरकार ने पहले इसे प्रतिबंधित कर दिया और फिर 15.5 प्रतिशत चीनी हिस्सेदारी के साथ कंपनी में अप्रत्यक्ष प्रवेश की अनुमति दी। मैंने इस सरकार के कुछ हिस्सों की तुलना में चीनी तकनीक का बड़ा प्रशंसक नहीं देखा है, ”उन्होंने एक ट्वीट में कहा।

ADVERTISEMENT

इस बीच, Battleground mobile India फेसबुक पर कई पोस्ट के माध्यम से आसन्न लॉन्च को छेड़ना जारी रखता है। एक टीज़र ने 18 जून या 18 सितंबर को इसके आधिकारिक लॉन्च का संकेत दिया था। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया Google Play ऐप स्टोर के माध्यम से प्री-रजिस्टर करने के लिए भी उपलब्ध है, और कंपनी ने हाल ही में दावा किया कि गेम ने अपने शुरुआती दिन में 7.6 मिलियन हिट दर्ज किए। क्राफ्टन ने कहा था कि वह उपयोगकर्ताओं की डेटा सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए Microsoft Azure के साथ सहयोग कर रहा है।

Advertisements

Related News

Leave a Reply

JOIN TELEGRAM AYODHYALIVE

Currently Playing
Coming Soon
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?

Our Visitor

119404
Users Today : 86
Total Users : 119404
Views Today : 120
Total views : 153962
July 2022
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
Currently Playing
July 2022
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

OUR SOCIAL MEDIA

Also Read

%d bloggers like this: