अयोध्यालाइव

शुगर मधुमेह में चुकन्दर के फायदे औऱ नुकसान जाने : आचार्य डॉक्टर आरपी पांडे वैद्य

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest

Listen

Advertisements

शुगर मधुमेह में चुकन्दर के फायदे औऱ नुकसान जाने : आचार्य डॉक्टर आरपी पांडे वैद्य

अयोध्या । हमने अक्सर चुकंदर का प्रयोग सलाद और जूस के रूप में किया है। क्या आप जानते हैं इस लाल रंग के फल से शरीर को कितने फायदे मिलते हैं। चुकंदर खाने का तरीका सब्जी के रूप में इसके अलावा चुकंदर के जूस को नींबू, संतरे, सेब आदि के जूस के साथ मिलाकर भी पिया जा सकता है।
यह लाल रंग का होता है इसलिए कई लोग इसे खून बढ़ाने वाला फल भी मानते हैं। इसमें सोडियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, सल्फर, क्लोरीन, आयोडीन, आयरन, विटामिन बी1, बी2 और सी उचित मात्रा में पाया जाता है। इसमें उपस्थित फोलिक एसिड (folic acid) गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है।
चुकंदर के पत्तों में भी आयरन, कैल्शियम और विटामिन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाते हैं। चुकंदर के पत्तों का सेवन करने से हमारे शरीर में कभी भी खून की कमी नहीं होगी। यह सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी लाभदायक है। प्रतिदिन एक कप चुकंदर के पत्तों का जूस पीने से आपको कोई भी बीमारी नहीं होगी। चुकंदर की तासीर ठंडी होती है।
चुकंदर के फायदे एनीमिया के लिये
चुकंदर का उपयोग हमारे शरीर में खून बढ़ाने के लिए बहुत उपयोगी होता है। चुकंदर में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिस के कारण यह लाल रक्त कोशिकाओं को सक्रिय और शरीर में इस की संख्या बढ़ाने में मदद करता है। यह एनीमिया रोग में बहुत ही उपयोगी होता है। इसके सेवन से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
चुकन्दर के लाभ दिमाग़ के लिए
चुकंदर में कोलीन (choline) नामक पोषक तत्व होता है जो हमारी याद रखने की क्षमता को बढ़ाता है और याददाश्त को तेज रखने में हमारी मदद करता है। चुकंदर का उपयोग हमारे दिमाग़ में ऑक्सीजन के प्रवाह को बनाए रखता है जिससे दिमाग़ में रक्त का संचार सुचारू रूप से होता है। इससे पागलपन के दौरे को भी ख़त्म करने में भी मदद मिलती है।
चुकंदर की सब्जी के लाभ मधुमेह रोग मे
मधुमेह रोग से पीड़ित व्यक्तियों के लिए चुकंदर बहुत ही लाभदायक होता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट रक्त में शक्कर के स्तर को बढ़ने से रोकते हैं। चुकंदर हमारे शरीर की इन्सुलिन सेंसिटिविटी (insulin sensitivity) को रोकता है और ऑक्सीडेटिव (oxidative) तनाव को दूर करता है। इस तरह चुकंदर मधुमेह रोगी के लिए लाभदायक होता है
चुकंदर के फायदे इन प्रेगनेंसी
चुकन्दर में अच्छी मात्रा में फोलिक एसिड होता है। यह पोषक तत्व गर्भवती महिलाओं और उनके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए महत्वपूर्ण होता है। चुकन्दर के सेवन से गर्भ में पल रहे बच्चे के स्पाइनल कॉर्ड (spinal cord) के निर्माण में मदद मिलती है। चुकन्दर का सेवन गर्भवती महिलाओं को अतिरिक्त ऊर्जा प्रदान करता है।
चुकंदर के जूस के फायदे हृदय में
चुकन्दर में पाए जाने वाला नाइट्रेट (nitrate) नामक रसायन रक्त के दबाव को कम करता है और इसमें मौजूद ब्यूटेन (butane) नामक तत्व रक्त को जमने से रोकता है। इस तरह चुकन्दर दिल से संबंधित बीमारियों को दूर करने में मदद करता है। चुकंदर के जूस को पीने से हाइपरटेंशन और हार्ट अटैक जैसी बीमारियां दूर होती हैं। इसके साथ-साथ चुकंदर का रस रक्त संचार में भी मदद करता है।
बीट रूट खाने के फायदे पेट से संबंधित मे
चुकन्दर में अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है। चुकंदर का प्रयोग पेट से संबंधित बीमारियों जैसे कब्ज और बवासीर के लिए फायदेमंद होता है। इसके लिए आप को रोजाना रात को सोने से पहले एक गिलास चुकंदर के रस को पीना चाहिए। चुकंदर शरीर में भोजन के पाचन में भी मदद करता है.
बीट के फायदे कै लिये
चुकंदर में बेटासायनिन (betacyanin) की मात्रा पाई जाती है जिसके कारण चुकंदर का रंग हल्का भूरा और बैंगनी होता है। इसी वजह से यह हमारे शरीर को कैंसर जैसी घातक बीमारियों से लड़ने में मदद करता है।
चुकंदर खाने से फायदा मासिक धर्म में
मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को अनेकों तरह की समस्याएं होती हैं। चुकंदर में मौजूद तत्व के कारण इस के नियमित सेवन से मासिक धर्म के दौरान होने वाला कष्ट नहीं होता है। मासिक धर्म खुल कर आता है। मासिक धर्म के दौरान होने वाली सुस्ती भी दूर रहती है।
चुकंदर का रस त्वचा के लिए
चुकंदर की तासीर ठंडी होती है इसलिए चुकंदर का रस त्वचा के कील मुंहासे और फोड़े फुंसी से निजाद दिलाने में मदद करता है। चुकंदर को उबाल कर उस पानी को मुहांसों तथा त्वचा पर हुए संक्रमण पर लगाने से त्वचा की समस्या से निजात मिलता है। इसके साथ-साथ यह आलस और थकान को दूर करने में भी मदद करता है। चुकंदर के रस में टमाटर का रस और हल्दी पाउडर को घोल कर पीने से त्वचा में चमक बनी रहती है और त्वचा मुलायम बनती है।
चुकंदर खाने के फायदे एनर्जी को बढ़ने में
चुकंदर में मोजूद कार्बोहाइड्रेट शरीर की एनर्जी को बढ़ाने और खसरा बुखार जैसी बीमारियों को ठीक करता है। इसके लिए चुकंदर को पानी में उबालकर फिर उस को छान लें अब उस पानी को पीजिए। इस से आप को इन समस्याओं में आराम मिलेगा।
चुकंदर के अन्य फायदे इस प्रकार हैं
चुकंदर में मौजूद बीटन (beaten) नामक तत्व शरीर में फोड़ा बनने से रोकता है।
चुकंदर का रस पेट में पथरी बनने से रोकता है और पेशाब में होने वाली जलन को भी कम करता है।
चुकंदर का उपयोग जिम जाने वाले लोगों के शरीर में एनर्जी को बनाए रखने में मदद करता है।
शोधों से पता चला है कि जिन व्यक्तियों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है, वह एक गिलास चुकंदर का रस पीलें तो एक घंटे के अंदर ही उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में कर सकते हैं।
चुकंदर के नुकसान
चुकंदर के नुकसान इस प्रकार हैं –
जैसे चुकंदर खाने के फायदे हैं वैसे ही इसे अधिक मात्रा में खाने से नुकसान भी हैं।
चुकंदर में आयरन और कॉपर भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। हेमोक्रोमैटोसिस (Hemocromatosis) के रोगी को इसके सेवन से बचना चाहिए।
जो कम रक्तचाप की समस्या से परेशान हैं उन्हें चुकंदर का सेवन कम कर देना चाहिए।
चुकंदर अधिक मात्रा में खाने से मतली और डायरिया की समस्‍या ही सकती है
किडनी की बीमारियों से पीड़ित लोगों को चुकंदर की अधिक मात्रा लेने से बचना चाहिए।

ADVERTISEMENT
Advertisements

Related News

Leave a Reply

JOIN TELEGRAM AYODHYALIVE

Currently Playing
Coming Soon
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?
देश का सबसे प्रभावशाली प्रधानमंत्री कौन रहा है?

Our Visitor

112046
Users Today : 127
Total Users : 112046
Views Today : 151
Total views : 143956
May 2022
M T W T F S S
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  
Currently Playing
May 2022
M T W T F S S
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  

OUR SOCIAL MEDIA

Herbal Homoea Care

Also Read

%d bloggers like this: